29 नवंबर को किसान Parliament कूच करेंगे : Rakesh Tikait | Farmers Protest | Farm Laws |Breaking News



Farmers will march to Parliament on November 29, says Rakesh Tikait
Making a big announcement on the farmers’ movement, Rakesh Tikait has said that the United Kisan Morcha will take out a tractor march to the Parliament House on November 29. Rakesh Tikait says that 7 tractors will be included in this March.

29 नवंबर को किसान संसद कूच करेंगे : राकेश टिकैत
किसान आंदोलन पर बड़ा ऐलान करते हुए राकेश टिकैत ने कहा है कि संयुक्त किसान मोर्चा 29 नवंबर को संसद भवन तक ट्रैक्टर मार्च निकालेगा. राकेश टिकैत का कहना है कि इस मार्च में 7 ट्रैक्टर शामिल होंगे.

#FarmersProtest #FarmLaws #ParliamentMarch

About Channel:

ज़ी न्यूज़ देश का सबसे भरोसेमंद हिंदी न्यूज़ चैनल है। जो 24 घंटे लगातार भारत और दुनिया से जुड़ी हर ब्रेकिंग न्यूज़, नवीनतम समाचार, राजनीति, मनोरंजन और खेल से जुड़ी खबरे आपके लिए लेकर आता है। इसलिए बने रहें ज़ी न्यूज़ के साथ और सब्सक्राइब करें |

Zee News is India’s most trusted Hindi News Channel with 24 hour coverage. Zee News covers Breaking news, Latest news, Politics, Entertainment and Sports from India & World.
————————————————————————————————————-
Download our mobile app:
Subscribe to our channel:
Watch Live TV :

Subscribe to our other network channels:
Zee Business:
WION:
Daily News and Analysis:
Follow us on Google news-
————————————————————————————————————-
You can also visit our website at:
Like us on Facebook:
Follow us on Twitter:

Follow us on Google News for latest updates:

Zee News:-
Zee Business:-
DNA India:-
WION:
Zee News Apps :

42 comments

  1. कृषि कानून को भारत सरकार लागू करे ईन निठल्लेl के चक्कर मे पूरे किसान का हक मारा जा रहा सरकार ये क्यू नहीं समझती पंजाब और हरियाणा में ही किसान है जहा कॉंग्रेस की सरकार है

  2. फोकट ट्रेक्टर मार्च निकालने का मतलब क्या है जब कृषि बिल वापस हो रहाहै तो और फिर पेट्रोल डीजल तो बस भाजपा शासनवाले राज्यो कुछ कम दाम किये है फिर दिल्ली के पोल्युशन कि भी जरा चिंता कर लेते डिकैत वैसे भी सुप्रीम कोठी ने दीपावली में फटाके बैन कर रखे थे पर ट्रैक्टर मा्र्च पर मौन क्यो है

  3. राकेश टिकैत किसानों का नेता नही कुछ लोगो का दलाल है जो गरीब किसानों को भड़काया जा रहा है और उस पर रासुका लगा देना चाहिए – जय हिंद

  4. मोदी जी से अनुरोध है कि पहले टिकैत एण्ड कंपनी की कायदे से सुताई होनी चाहिए फिर इसे जेल में डालना चाहिए । ऐसी धारा लगाई जायँ कि यह बीस साल तक जेल से बाहर न आ पाये। यह सब किसान नहीँ हैं बल्कि यह आढती है, दलाल हैं और व्यापारी है।

  5. राकेश टिकैत को थाने में लेजाके जितनी भी डिग्री है सब इस्पे आज वानी जहिए यह जो तीनों कानून वापिस हुए हैं ना इसके पीछे कारण कुछ और होगा

  6. Ye kishan isse pahle kaha the ??
    Jab kishan suicide kar rahe the agar itna paisa hai dooniya me pradarshan karne ke liye to isse acha kishano ke liye kuch kat lete

  7. यार तुम लोग समझते क्यों नहीं हो यह डिकेट पहले भी यही चाहता था और अब भी यही चाहता है कि इन पर लाठी चार्ज हो इनको लाते पड़े इनको जूते पड़े और फिर यह बाहर आकर ढिंढोरा पीटे छाती पीटे की हमको मारा किसानों को मारा किसानों को मारा किसानों को मारा इस चीज का यह शोर मचाकर के माहौल बनादे कि मोदी किसान विरोधी है। असल में बात यही है कि जूते खाना चाहता है यह लातों का वह बहुत है जो बातों से नहीं मानने वाला ।

  8. NBDSA took action against zee news for spreading false information about farmers & made u take down ur old videos, but still you immoral evil- minded boot-lickers won’t listen.

  9. राकेश टिकैत तों बहुत बड़ा चोर है इससे तों जेल में डाल देना चाहिए

  10. राकेश टिकैत किसान नेता हो ही नहीं सकते हैं। क्योंकि सरकार पर दोषारोपण जो कर रहे थे। उसके लिए सरकार ने तो एक कदम पीछे कर लिया है। मगर इनका विपक्ष के नेता जैसा बर्ताव इनको आगे और एक्सपोज करेगा।

Leave a comment

Your email address will not be published.